माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi

माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi आपलोग इनपुट डिवाइस एवं आउटपुट डिवाइस से अच्छी तरह परिचित होंगे। माउस एक इनपुट डिवाइस है जिसका उपयोग कंप्यूटर को निर्देश देने के लिए किया जाता है। जब माउस सतह पर खिसकाया जाता है तो स्क्रीन पर एक एरो मूव करता हुआ दिखता है, जिसे माउस पॉइंटर कहते है। यह पॉइंटर मोनिटर की स्क्रीन पर एक निश्चित स्थान को दर्शाता है। इसलिए इसे पोइंटिंग डिवाइस भी कहा जाता है।अब विस्तार से देखते है माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi

माउस का आविष्कार किसने किया?

सर डगलस एंजेलबर्ट ने 1960 में माउस का आविष्कार किया था। माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi आगे विस्तार से पढ़ें

इन्हें भी पढ़ें :-

माउस की संरचना

वर्तमान में उपयोग होने वाले माउस में तीन बटन होते हैं। लेफ्ट बटन, राईट बटन एवं बीच में एक पहियानुमा बटन होता है जिसे स्क्रॉल बटन कहते हैं। नीचे चित्र में माउस की संरचना दिखाई गयी है। माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi आगे विस्तार से पढ़े

माउस क्या है?
एक सामान्य माउस
एक माउस का आंतरिक भाग
एक माउस का आंतरिक भाग

माउस के कार्य

मुख्य रूप से माउस से निम्नलिखित तरह के कार्य किये जा सकते है:

  • एक कंप्यूटर माउस यूजर को कर्सर को एक जगह से दूसरी जगह मूव करने की अनुमति देता है।
  • ये हमे कंप्यूटर स्क्रीन पर टेक्स्ट को सेलेक्ट करने, फाइल्स को ड्रैग करने, और आइटम्स पर क्लिक करने में मदद करता है।
  • माउस में मौजूद स्क्रॉल व्हील की मदद से हम किसी पेज को उपर और नीचे कर सकते है।
  • उपयोगकर्ता किसी भी फाइल्स या एप्लीकेशन पर डबल क्लिक करके उसे खोल सकते है।

एक माउस द्वारा किये जाने वाले विभिन्न कार्य को नीचे तालिका में विस्तार से बताया गया है :

कार्य उपयोग उपयोग करने का तरीका
लेफ्ट (बायाँ) क्लिकसेलेक्ट करनामाउस को बिना हिलाए लेफ्ट बटन दबाएँ एवं छोड़ दें
राईट (दायाँ)क्लिकसन्दर्भ आधारित मेनू प्राप्त करने के लिएमाउस को बिना हिलाए राईट बटन दबाएँ एवं छोड़ दें
लेफ्ट (बायाँ) डबल क्लिकखोलना/शुरू करनामाउस को बिना हिलाए लेफ्ट बटन को दो बार जल्दी – जल्दी दबाएँ
ड्रैग एवं ड्रापमूव करनामाउस को सतह पर रखते हुए बाएँ बटन को दबाकर किसी दिशा में खीचने को ड्रैगिंग कहते हैं। माउस पॉइंटर को किसी जगह पर ले जाकर छोड़ने को ड्रापिंग कहते हैं।
स्क्रॉलपेज या लिस्ट को ऊपर या नीचे करनामाउस के बीच में मौजूद स्क्रॉल बटन को आगे या पीछे घुमाएँ
माउस द्वारा किये जाने वाले विभिन्न कार्य

उपयोग करने का सही तरीका

किसी माउस का उपयोग करते समय यह सुनिश्चित करे की आपने माउस सही तरीके से पकड़ा है। गलत तरीके से पकड़ने पर आपको माउस प्रयोग करने में कठिनाई हो सकती है एवं आपके हाथ में दर्द भी हो सकता है। माउस का उपयोग करते समय आपका हाथ सीधा होना चाहिए, दाएँ या बाएँ ओर झुके हुए नहीं होने चाहिए एवं कलाई भी सीधी होनी चाहिए ।

माउस को उपयोग करने का सही तरीका
माउस को उपयोग करने का सही तरीका
माउस को उपयोग करने का सही तरीका
माउस को उपयोग करने का सही तरीका

कंप्यूटर माउस कितने प्रकार के होते है?

वर्तमान में तीन प्रकार के माउस का उपयोग किया जाता है।

  • प्रकाशीय माउस (Optical Mouse): ऑप्टिकल माऊस एक लाइट सोर्स का इस्तेमाल करता है। इसके निचले सतह से प्रकाश निकलता है, जो माउस के खिसकने पर गति तथा दुरी का पता लगाकर स्क्रीन पर कर्सर को मूव करता है एवं कंप्यूटर को निर्देश देता है। वर्तमान समय में ऑप्टिकल माउस का सर्वाधिक प्रयोग किया जाता है।
माउस क्या है
ऑप्टिकल माउस का निचला भाग
  • मैकेनिकल माउस (Mechanical Mouse) : मैकेनिकल माउस वे माउस होते है।  जिनके निचले भाग पर एक रबर की गेंद लगी होती है जब माउस को सतह पर खिसकाते  है तो वह गेंद माउस के अंदर घूमती है और उसके अंदर लगे सेंसर्स कंप्यूटर को संकेत देते है।
मैकेनिकल माउस का आंतरिक भाग
मैकेनिकल माउस का आंतरिक भाग
  • तार रहित माउस (Wireless Mouse) : बिना तार का माउस Wireless Mouse कहलाता है। इसे Cordless Mouse भी कहते है। यह माउस Radio frequency (RF) तकनीक पर आधारित होती है मगर इसकी बनावट Optical Mouse की तरह होती है। इसका उपयोग करने के लिए एक Transmitter तथा Receiver की जरूरत होती है। Transmitter माउस में ही बना होता है और Receiver को अलग से कम्प्यूटर में लगाया जाता हैं।
वायरलेस माउस
वायरलेस माउस
वायरलेस माउस
वायरलेस माउस

कंप्यूटर प्रयोग करते समय हमलोग कई प्रकार के माउस पॉइंटर देखते है। सभी पॉइंटर के अलग अलग नाम एवं कार्य होते है। कुछ महत्वपूर्ण माउस पॉइंटर्स के नाम एवं कार्य की व्याख्या नीचे तालिका में दी गयी है जिनका हमलोग अक्सर प्रयोग करते रहते है।

माउस द्वारा किये जाने वाले विभिन्न कार्य
माउस द्वारा किये जाने वाले विभिन्न कार्य

कंप्यूटर माउस को कैसे कनेक्ट करते हैं?

कंप्यूटर से माउस को कनेक्ट करने के लिये आजकल सामान्यत दो प्रकार के Port उपयोग किये जाते हैं ।

  • USB पोर्ट : USB एक पोर्ट है जिसका प्रयोग विभिन्न डिवाइस को कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए किया जाता है। USB का फुल फॉर्म यूनिवर्सल सीरियल बस है। यह प्लग एंड प्ले इंटरफ़ेस को सपोर्ट करता है। आजकल अधिकतर माउस में USB पोर्ट का ही उपयोग किया जाता है। इसका डाटा ट्रान्सफर रेट PS/2 पोर्ट की तुलना में बहुत ज्यादा है।
usb केबल
USB केबल
PS/2 केबल
PS/2 केबल

PS/2 पोर्ट : USB पोर्ट से पहले माउस को कंप्यूटर से कनेक्ट करने के लिए PS/2 पोर्ट का प्रयोग किया जाता था। PS/2 का मतलब Personal System/2 है। हालाँकि IBM द्वारा बनाया गया ये पोर्ट पुराने कंप्यूटर में सबसे अधिक देखने को मिलता था। वर्तमान समय में इसकी जगह USB पोर्ट का प्रयोग होने लगा है।

इस पोस्ट से आपने क्या सीखा ?

माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi पोस्ट के जरिये मैंने माउस के बारे में सब कुछ बताने की कोशिश की है। आशा है कि आपको यह पोस्ट पसंद आया होगा। इस पोस्ट को अपने प्रियजनों के बीच शेयर करें ताकि हमें और भी अच्छे पोस्ट आप तक लाने के प्रेरणा मिल सके। आपका सहयोग ही हमें अच्छे पोस्ट लिखने को प्रेरित करता है।

3 thoughts on “माउस क्या है? Mouse kya hai in hindi

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: