झारखण्ड राज्य का परिचय एवं संपूर्ण जानकारी हिंदी में

आज का पोस्ट झारखण्ड राज्य का परिचय एवं संपूर्ण जानकारी हिंदी में के जरिये हम झारखंड राज्य के विभिन्न पहलुओं को जानेंगे। 15 नवंबर 2000 ईस्वी को झारखंड भारत के 28वें राज्य के रूप में वर्चस्व में आया। तभी से लेकर अब तक इस राज्य में अनेक बदलाव आये। झारखण्ड राज्य का परिचय एवं संपूर्ण जानकारी हिंदी में पोस्ट के जरिए हम इन्हीं बदलावों के बारे में चर्चा करेंगे एवं झारखंड राज्य के बारे में जानने की कोशिश करेंगे। तो चलिए शुरू करते हैं झारखण्ड राज्य का परिचय एवं संपूर्ण जानकारी

झारखण्ड का प्रतीक चिह्न

विषय-सूचि

झारखण्ड का प्रतीक चिह्न
झारखण्ड का प्रतीक चिह्न

14 अगस्त 2020 को झारखण्ड का नया प्रतीक चिह्न जारी किया गया। मुख्यमंत्री हेमंत सोरेन से इसे जारी करते हुए कहा कि राज्य के समृद्ध विरासत को प्रतिबिम्बित करता नया प्रतीक चिह्न झारखंड को आज मिला है। यह चिह्न हमारी संस्कृति को रेखांकित करता है। हमारी अस्मिता का द्योतक और चेतना का प्रतीक है। राज्य के प्राकृतिक परिवेश एवं यहां के जीवन दर्शन को अपने में समेटे हुए हमारी पहचान को समग्रता से प्रकट करता है। नया प्रतीक चिन्ह राज्य की संस्कृति, यहां की जीवन शैली, यहां के पर्यावरण, यहां की ताकत और खूबसूरती को अपने आप में समेटे हुए है। 

उन्होंने कहा कि यह प्रतीक चिन्ह चौकोर नहीं बल्कि वृत के आकार का है, यानी गोलाकार है, जो विकास के प्रतीक का सूचक है। जैसे पहिया लगातार घूमते हुए आगे बढ़ता है, झारखंड भी विकास के पथ पर बढ़ता रहेगा। इस राजकीय चिन्ह में हरा रंग है जो खुशहाली और समृद्धि का प्रतीक हैं। इसमे पलास के फूल का उपयोग किया गया है क्योंकि यह झारखंड का राजकीय फूल भी है। साथ ही उन्होंने कहा कि नए राजकीय चिन्ह में हाथी को दर्शाया गया है जो शुभ होता है। ताकत की पहचान है। इसके जरिए झारखंड की ताकत को दिखाया गया है। ये झारखंड का राजकीय पशु भी है। हाथी अनुशासित भी होता है। इसके अलावा  प्रतीक चिन्ह का लाल रंग आग और क्रांति का प्रतीक है  जो बताता है झारखंड के लोगों में संघर्ष की अद्भुत क्षमता है। 

झारखंड राज्य का गठन कब हुआ ?

राज्य का गठन 15 नवंबर 2000 ईस्वी को हुआ।

झारखंड की राजधानी कहां है?

हमारे झारखंड की राजधानी रांची है।

झारखंड की भौगोलिक स्थिति क्या है?

भौगोलिक स्थिति

  • झारखंड की सीमाएँ उत्तर में बिहार, पश्चिम में उत्तर प्रदेश एवं छत्तीसगढ़, दक्षिण में ओड़िशा और पूर्व में पश्चिम बंगाल को छूती हैं।
  • अक्षांशीय विस्तार — 21°58’10” से 25°18’उत्तरी अक्षांश
  • देशांतरीय विस्तार – 83°19’50”से 87°57’पूर्वी देशांतर

झारखंड राज्य का क्षेत्रफल कितना है?

झारखंड राज्य का कुल क्षेत्रफल 79714 वर्ग किलोमीटर है।

ग्रामीण क्षेत्रफल – 77922 वर्ग किलोमीटर

शहरी क्षेत्रफल – 1792 वर्ग किलोमीटर

झारखण्ड : एक परिचय
झारखण्ड : एक परिचय

झारखंड का उच्च न्यायालय कहां स्थित है?

राज्य का उच्च न्यायालय रांची में स्थित है जो कि देश का 21 वा उच्च न्यायालय है।

झारखंड राज्य में कितने लोकसभा सीट है ?

राज्य में 14 लोकसभा सीट है। जिनमें से 01 अनुसूचित जाति, 05 अनुसूचित जनजाति तथा 8 अनारक्षित सीटें हैं।

झारखंड राज्य में कुल कितने प्रमंडल है?

राज्य में कुल 5 प्रमंडल है।

झारखंड राज्य में कुल कितने जिले हैं?

राज्य में कुल 24 जिले है।

झारखंड गठन के बाद निर्मित जिले कौन-कौन से हैं?

लातेहार, सिमडेगा, जामताड़ा, सरायकेला खरसावां, खूंटी एवं रामगढ़ झारखंड गठन के बाद निर्मित जिले हैं।

क्र.सं.जिले का स्थान निर्माण की तारीख जिला का नाम जिसमें पहले शामिल था
1.19वाँ4 अप्रैल, 2001लातेहारपलामू
2.20वाँ26 अप्रैल, 2001जामताड़ादुमका
3.21वाँ30 अप्रैल, 2001सिमडेगागुमला
4.22वाँअप्रैल 2001सरायकेला-खरसावांपश्चिमी सिंहभूम
5.23वाँ12 सितम्बर, 2007खूंटीरांची
6.24वाँ12 सितम्बर, 2007रामगढ़हजारीबाग

झारखंड राज्य में कुल कितने अनुमंडल हैं?

राज्य में 45 अनुमंडल है ।

झारखंड राज्य में कुल कितने प्रखंड हैं?

राज्य में कुल 264 प्रखंड है।

झारखंड राज्य में नगरों की संख्या कितनी है?

राज्य में नगरों की संख्या 228 है।

झारखंड राज्य में कितने नगर निगम है?

झारखंड राज्य में कुल 9 नगर निगम है (रांची, धनबाद, देवघर, आदित्यपुर, चास, मेदिनीनगर, हजारीबाग, मानगो , गिरिडीह)

रांची नगर निगम की स्थापना कब हुई थी?

रांची नगर निगम की स्थापना 15 सितंबर 1979 को हुई थी।

झारखंड राज्य में कुल कितने जिला परिषद हैं?

राज्य में कुल 24 जिला परिषद है।

झारखंड राज्य में गांव की संख्या कितनी है?

इस राज्य में कुल 32620 गांव है।

झारखंड राज्य में कुल कितने वार्ड हैं?

इस राज्य में कुल 1400 वार्ड हैं।

झारखंड में ग्राम पंचायतों की संख्या कितनी है?

झारखंड राज्य में कुल 4559 ग्राम पंचायत हैं।

राज्य में कितनी पंचायत समिति है?

झारखंड राज्य में पंचायत समितियों की संख्या 212 है।

झारखंड राज्य में कुल कितने शहरी निकाय हैं?

राज्य में कुल 39 शहरी निकाय हैं।

झारखंड राज्य में कुल कितने नगर परिषद है?

हमारे झारखंड राज्य में नगर परिषदों की संख्या 19 है।

झारखंड राज्य में कुल कितने नगर पंचायत है?

राज्य में 13 नगर पंचायत है।

झारखंड राज्य में एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले कितने नगर हैं?

एक लाख से अधिक जनसंख्या वाले नगरों की संख्या 10 है।

झारखंड में महानगरों की संख्या कितनी है?

राज्य में 2 महानगर हैं। धनबाद एवं जमशेदपुर।

झारखंड राज्य में राष्ट्रीय राजमार्ग की लंबाई कितनी है?

राज्य में राष्ट्रीय राजमार्ग की लंबाई 2662 किलोमीटर है।

झारखंड राज्य में राजकीय राजमार्ग की लंबाई कितनी है?

राज्य में कुल 6880 किलोमीटर राजकीय राजमार्ग हैं।

झारखंड राज्य का सबसे बड़ा शहर कौन सा है?

जमशेदपुर झारखंड का सबसे बड़ा शहर है।

झारखंड के प्रमुख औद्योगिक नगर कौन-कौन से हैं?

जमशेदपुर, धनबाद, बोकारो, एवं हजारीबाग झारखंड के प्रमुख नगरों में से हैं।

झारखंड के सर्वाधिक प्रखंड वाले जिले कौन से हैं?

पलामू – 21

गढ़वा – 20

रांची – 18

झारखंड का सर्वाधिक जिलों वाला प्रमंडल कौन सा है?

उत्तरी छोटानागपुर झारखंड का सर्वाधिक जिलों वाला प्रमंडल है जिसमें कुल 7 जिले है।

झारखंड का सबसे कम जिलों वाला प्रमंडल कौन सा हैं?

पलामू एवं कोल्हान झारखंड के सर्वाधिक जिलों वाले प्रमंडल हैं। गौरतलब है कि कोल्हान झारखंड का नवीनतम प्रमंडल है।

झारखंड का सबसे बड़ा संसदीय क्षेत्र कौन सा है?

पश्चिमी सिंहभूम झारखंड का सबसे बड़ा संसदीय क्षेत्र है।

झारखंड का सबसे छोटा संसदीय क्षेत्र कौन सा है?

चतरा झारखंड का सबसे छोटा संसदीय क्षेत्र है।

झारखंड में पुलिस थानों की कुल संख्या कितनी है?

राज्य में कुल 427 पुलिस थाने हैं।

झारखंड पुलिस का ध्येय वाक्य क्या है?

“सेवा ही लक्ष्य” झारखंड पुलिस का ध्येय वाक्य है।

झारखंड में कुल डाकघरों की संख्या कितनी है?

राज्य में डाकघरों की कुल संख्या 3095 है।

राज्य में केंद्रीय कारा की संख्या कितनी है?

झारखंड राज्य में कुल 5 केंद्रीय कारा है:

  • बिरसा मुंडा केंद्रीय कारा, रांची
  • दुमका केंद्रीय कारा, दुमका
  • जयप्रकाश केंद्रीय कारा, हजारीबाग
  • पलामू केंद्रीय कारा, मेदिनीनगर
  • घागीडीह केंद्रीय कारा, जमशेदपुर

झारखण्ड के राजकीय प्रतीक

प्रतीक चिह्न
राजकीय वृक्षसाल
राजकीय पुष्पपलाश
राजकीय पशुहाथी
राजकीय पक्षीकोयल
झारखण्ड के राजकीय प्रतीक

झारखण्ड की जनगणना रिपोर्ट 2011

सोर्स: censusindia.gov.in

कुलग्रामीणशहरी
जनसंख्या32966238250369467929292
पुरुष जनसंख्या16931688127754684156220
महिला जनसंख्या16034550122614783773072
जनसंख्या प्रतिशत10075.9524.05
लिंगानुपात947960908
साक्षरता दर67.6362.4083.30
साक्षरता दर(पुरुष)78.4574.5789.78
साक्षरता दर(महिला)56.2149.7576.17
झारखण्ड की जनगणना रिपोर्ट 2011

आशा करता हूँ आपको झारखण्ड राज्य का परिचय एवं संपूर्ण जानकारी पोस्ट के जरिये झारखण्ड राज्य की तमाम जानकारियाँ प्राप्त हुई होंगी। आगे भी मैं झारखण्ड राज्य से सम्बंधित पोस्ट लिखता रहूँगा ताकि आपको झारखण्ड से सम्बंधित सभी प्रकार की जानकारी मिल सके। इस ज्ञानवर्धक पोस्ट को अपने प्रियजनों को शेयर करे ताकि वो भी अपना ज्ञानवर्धन कर सके।

धन्यवाद

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Translate »
error: